वियतनाम की EV निर्माता कंपनी VinFast तमिलनाडु में बैटरी प्लांट लगाने की योजना बना रही है

ASHWANI KUMAR
4 Min Read
बिजली के वाहन

Vietnam’s EV manufacturer VinFast is planning to set up a battery plant in Tamil Nadu.

VinFast, जो टेस्ला और चीन की BYD जैसी कार निर्माताओं के साथ प्रतिस्पर्धा करती है, ने टिप्पणी करने से इनकार कर दिया

मामले से परिचित तीन लोगों ने कहा कि वियतनामी इलेक्ट्रिक वाहन निर्माता VinFast दक्षिणी राज्य तमिलनाडु में अपनी पहली भारतीय विनिर्माण सुविधा खोलने के लिए तैयार है, जहां वह बैटरी बनाएगी।

लोगों में से एक ने कहा कि कंपनी थूथुकुडी शहर में संयंत्र में ईवी के लिए बैटरी बनाएगी, यह कहते हुए कि यह वियतनाम से भागों में भेजे गए वाहनों को इकट्ठा करने की इसकी पहले घोषित योजनाओं से अलग थी।

VinFast, जो टेस्ला और चीन की BYD जैसी कार निर्माताओं के साथ प्रतिस्पर्धा करती है, ने टिप्पणी करने से इनकार कर दिया। दो लोगों ने कहा कि आने वाले दिनों में कंपनी द्वारा नए प्लांट की घोषणा होने की उम्मीद है।

VinFast ने बुधवार को एक बयान में कहा कि वह “उचित समय” पर अपनी योजनाओं का विवरण प्रकट करेगा।

तमिलनाडु सरकार के प्रवक्ता ने टिप्पणी के अनुरोध का तुरंत जवाब नहीं दिया।

मामले से सीधे तौर पर जुड़े एक वरिष्ठ अधिकारी चौथे सूत्र ने मंगलवार को कहा, “विंफास्ट के कई अधिकारियों ने साइटों की जांच के लिए तमिलनाडु के थूथुकुडी जिले का दौरा किया है।”

रॉयटर्स ने सितंबर में रिपोर्ट दी थी कि VinFast ने भारत में बिक्री, कानूनी और बैक ऑफिस नौकरियों के लिए भर्ती शुरू कर दी है, ऐसे लोगों की तलाश की जा रही है जो “सोचने का साहस करें, करने का साहस करें और कठिनाइयों का सामना करने का साहस करें।”

यह तुरंत स्पष्ट नहीं है कि निवेश का आकार क्या है या तमिलनाडु में VinFast फैक्ट्री कब चालू होगी।

VinFast ने अक्टूबर में कहा था कि वह भारत और इंडोनेशिया में असेंबली फ़ैक्टरियाँ बनाएगी, जिनमें से प्रत्येक की क्षमता प्रति वर्ष 50,000 कारों तक होगी और शुरुआत में 200 मिलियन डॉलर तक का पूंजीगत व्यय होगा। इसमें कहा गया है कि उत्पादन 2026 में शुरू होगा।

अलग से, ग्रीन एसएम, ईवी टैक्सी ऑपरेटर, जो ज्यादातर VinFast के संस्थापक के स्वामित्व में है, भारत में दुनिया के तीसरे सबसे बड़े ऑटोमोटिव बाजार को स्थापित करने की भी योजना बना रहा है, VinFast के सीईओ ले थी थू थ्यू ने अक्टूबर में रॉयटर्स को बताया।

पहले सूत्र ने कहा, VinFast भारत में ई-स्कूटर और ई-कार दोनों लाने के लिए भी तैयार है।

तमिलनाडु की राजधानी चेन्नई, जिसे एशिया का डेट्रॉइट कहा जाता है, और अन्य जिले पहले से ही भारतीय दोपहिया वाहन निर्माताओं ओला इलेक्ट्रिक और एथर के साथ-साथ चीन के बीवाईडी सहित कई ईवी खिलाड़ियों की मेजबानी कर रहे हैं।

VinFast: भारत और इंडोनेशिया में नयी यूवी कार निर्माण इकाइयों की योजना

VinFast ने अक्टूबर में एक बड़ी घोषणा की है, जिसमें उन्होंने भारत और इंडोनेशिया में नयी यूवी कारों के निर्माण संयंत्र स्थापित करने की योजना बताई है। प्रत्येक संयंत्र की क्षमता तकरीबन 50,000 कारों प्रति वर्ष होगी और इसके लिए प्रारंभिक पूंजी व्यय $200 मिलियन तक हो सकता है। 2026 में उत्पादन आरंभ होगा।

भारतीय विमानन क्षेत्र में एक नई दिशा का उदाहरण माना जा सकता है VinFast के इस कदम द्वारा। यह निवेश न केवल ऑटोमोबाइल सेक्टर में बल्कि स्थानीय रोजगार के अवसरों के संकेतक भी हो सकता है।

विनफास्ट ने इस परियोजना को ध्यान में रखते हुए भारत में अपना पहला बैटरी प्लांट स्थापित करने का निर्णय लिया है। इस प्लांट में वे इलेक्ट्रिक व्हीकल्स (EVs) के लिए बैटरी बनाएंगे।

Join And Get Free Plugins, Themes, And ideas

WhatsApp Group Join Now
Share This Article
Leave a comment

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *